Pakistan Raising Kashmir Issue At United Nations Information Committee - संयुक्त राष्ट्र सूचना समिति में पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने जताई आपत्ति - Only Hit Lyrics

Pakistan Raising Kashmir Issue At United Nations Information Committee - संयुक्त राष्ट्र सूचना समिति में पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने जताई आपत्ति

[ad_1]



एजेंसी, संयुक्त राष्ट्र 
Updated Thu, 03 May 2018 05:55 PM IST



ख़बर सुनें



पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र की कमेटी ऑन इन्फार्मेशन के समक्ष कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन का मुद्दा उठाया है। भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति जाहिर करते हुए कहा है कि पैनल के काम से इसका कोई लेना-देना नहीं है। 

पाकिस्तान के डेलिगेट मसूद अनवर ने समिति के एक सत्र को बुधवार को संबोधित किया। इसमें कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन और हिंसा का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र का जन सूचना विभाग इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। साथ ही उन्होंने रोहिंग्या और फलस्तीन में मानवाधिकार उल्लंघन का मामला उठाया। 

इसके जवाब में संयुक्त राष्ट्र में भारतीय मिशन के मंत्री एस श्रीनिवास प्रसाद ने कहा, पाकिस्तान का यह बयान संयुक्त राष्ट्र की समिति को अपने काम से भटकाने के प्रयास से ज्यादा कुछ नहीं है। भारत आतंकवाद को कभी नहीं नकारता है। वह हमेशा उसका विरोध करता है। 



पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र की कमेटी ऑन इन्फार्मेशन के समक्ष कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन का मुद्दा उठाया है। भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति जाहिर करते हुए कहा है कि पैनल के काम से इसका कोई लेना-देना नहीं है। 


पाकिस्तान के डेलिगेट मसूद अनवर ने समिति के एक सत्र को बुधवार को संबोधित किया। इसमें कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन और हिंसा का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र का जन सूचना विभाग इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। साथ ही उन्होंने रोहिंग्या और फलस्तीन में मानवाधिकार उल्लंघन का मामला उठाया। 

इसके जवाब में संयुक्त राष्ट्र में भारतीय मिशन के मंत्री एस श्रीनिवास प्रसाद ने कहा, पाकिस्तान का यह बयान संयुक्त राष्ट्र की समिति को अपने काम से भटकाने के प्रयास से ज्यादा कुछ नहीं है। भारत आतंकवाद को कभी नहीं नकारता है। वह हमेशा उसका विरोध करता है। 





[ad_2]

Source link
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads