Karnataka Election: Bs Yeddyurappa, Union Minister Prakash Javadekar Launch Party Manifesto - कर्नाटक चुनाव: भाजपा ने जारी किया घोषणापत्र, किसानों और छात्रों से किए बड़े वादे - Only Hit Lyrics

Karnataka Election: Bs Yeddyurappa, Union Minister Prakash Javadekar Launch Party Manifesto - कर्नाटक चुनाव: भाजपा ने जारी किया घोषणापत्र, किसानों और छात्रों से किए बड़े वादे

[ad_1]


ख़बर सुनें



कर्नाटक में 13 मई को चुनाव होने वाले हैं। देश की दोनों बड़ी पार्टियां यहां जीतने की जो-तोड़ कोशिश कर रही हैं। चुनावों के मद्देनजर आज भाजपा ने बंगलूरू में अपना चुनावी घोषणापत्र जारी कर दिया है। भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदियुयुरप्पा, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और दूसरे नेताओं की मौजूदगी में पार्टी के घोषणापत्र को जारी किया गया है। भाजपा ने इस घोषणापत्र को भाजपा ने कर्नाटक के लिए दिया वचन का नाम दिया है।

घोषणापत्र जारी करते हुए येदियुरप्पा ने कहा कि किसानों का कल्याण हमारी प्राथमिकता में सबसे ऊपर है। हम कर्नाटक में विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के लिए 1,50,000 करोड़ रुपए आवंटित करेंगे। हम राज्य के हर खेत तक पानी पहुंचाएंगे। किसानों को कीमतों में उतार-चढ़ाव के दौरान मदद करने के लिए रायता बंधू मार्केट इंटरवेंशन फंड के जरिए 5,000 करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे। छात्रों को फ्री लैपटॉप देंगे। कॉलेज पढ़ने वाले छात्रों को स्मार्टफोन दिए जाएंगे।

पार्टी ने वादा किया है कि भाजपा मुख्य मंत्री रायता सुरक्षा विमे योजना के तहत मुफ्त में भूमि विहिन कृषि मजदूरों को 2 लाख रुपए का एक्सीडेंटल बीमा देगी। भाजपा शासन के दौरान स्टार्टअप कल्चर को बढ़ाया जाएगा। पार्टी 6 के-हब विकसित करेगी। जिन्हें हुबली, बंगलूरू, रायचूड़, मैसूर, मंगलुरु और कालाबुर्गी में बनाया जाएगा। गरीबी रेखा से नीचे रह रहीं महिलाओं को मुख्यमंत्री स्मार्टफोन योजना के तहत मुफ्त में स्मार्टफोन दिया जाएगा।

भाजपा से पहले कांग्रेस भी अपना घोषणापत्र जारी कर चुकी है। जिसमें पांच साल में एक करोड़ नौकरी देने का वादा किया गया है। पार्टी ने कहा है कि अगर वह सत्ता में वापस आई तो 18-23 वर्ष के आयु वर्ग के कॉलेज विद्यार्थियों को मुफ्त में स्मार्टफोन देगी।

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने घोषणापत्र को ‘कर्नाटक की जनता की आवाज’ करार देते हुए कहा था कि यह ऐसा दस्तावेज नहीं है जिसे तीन या चार लोग मिलकर बंद कमरे में तैयार करते हैं। नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा था कि प्रधानमंत्री अक्सर लोगों से ‘मन की बात’ करते रहते हैं लेकिन इस घोषणापत्र में कर्नाटक के लोगों की ‘मन की बात’ को शामिल किया गया है। 
 


कर्नाटक में 13 मई को चुनाव होने वाले हैं। देश की दोनों बड़ी पार्टियां यहां जीतने की जो-तोड़ कोशिश कर रही हैं। चुनावों के मद्देनजर आज भाजपा ने बंगलूरू में अपना चुनावी घोषणापत्र जारी कर दिया है। भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदियुयुरप्पा, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और दूसरे नेताओं की मौजूदगी में पार्टी के घोषणापत्र को जारी किया गया है। भाजपा ने इस घोषणापत्र को भाजपा ने कर्नाटक के लिए दिया वचन का नाम दिया है।


घोषणापत्र जारी करते हुए येदियुरप्पा ने कहा कि किसानों का कल्याण हमारी प्राथमिकता में सबसे ऊपर है। हम कर्नाटक में विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के लिए 1,50,000 करोड़ रुपए आवंटित करेंगे। हम राज्य के हर खेत तक पानी पहुंचाएंगे। किसानों को कीमतों में उतार-चढ़ाव के दौरान मदद करने के लिए रायता बंधू मार्केट इंटरवेंशन फंड के जरिए 5,000 करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे। छात्रों को फ्री लैपटॉप देंगे। कॉलेज पढ़ने वाले छात्रों को स्मार्टफोन दिए जाएंगे।

पार्टी ने वादा किया है कि भाजपा मुख्य मंत्री रायता सुरक्षा विमे योजना के तहत मुफ्त में भूमि विहिन कृषि मजदूरों को 2 लाख रुपए का एक्सीडेंटल बीमा देगी। भाजपा शासन के दौरान स्टार्टअप कल्चर को बढ़ाया जाएगा। पार्टी 6 के-हब विकसित करेगी। जिन्हें हुबली, बंगलूरू, रायचूड़, मैसूर, मंगलुरु और कालाबुर्गी में बनाया जाएगा। गरीबी रेखा से नीचे रह रहीं महिलाओं को मुख्यमंत्री स्मार्टफोन योजना के तहत मुफ्त में स्मार्टफोन दिया जाएगा।

भाजपा से पहले कांग्रेस भी अपना घोषणापत्र जारी कर चुकी है। जिसमें पांच साल में एक करोड़ नौकरी देने का वादा किया गया है। पार्टी ने कहा है कि अगर वह सत्ता में वापस आई तो 18-23 वर्ष के आयु वर्ग के कॉलेज विद्यार्थियों को मुफ्त में स्मार्टफोन देगी।

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने घोषणापत्र को ‘कर्नाटक की जनता की आवाज’ करार देते हुए कहा था कि यह ऐसा दस्तावेज नहीं है जिसे तीन या चार लोग मिलकर बंद कमरे में तैयार करते हैं। नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा था कि प्रधानमंत्री अक्सर लोगों से ‘मन की बात’ करते रहते हैं लेकिन इस घोषणापत्र में कर्नाटक के लोगों की ‘मन की बात’ को शामिल किया गया है। 
 






[ad_2]

Source link
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads