अमेरिका के हवाई में 1975 के बाद सबसे तेज भूकंप, 14000 घरों में बिजली गुल - Only Hit Lyrics

अमेरिका के हवाई में 1975 के बाद सबसे तेज भूकंप, 14000 घरों में बिजली गुल

[ad_1]

होनोलुलु: हवाई में रिक्टर पैमाने पर 6.9 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए, जिसके बाद स्थानीय लोग अपने घरों से बाहर निकल आए. सीएनएन के मुताबिक, भूकंप के झटके शुक्रवार को दोपहर 12.32 बजे लेलानी एस्टेट्स के 16 किलोमीटर दक्षिणपश्चिम में महसूस किए गए. दुनिया के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी किलाउए के फटने के बाद से देश में 110 से अधिक भूकंप आ चुके हैं. अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के भूवैज्ञानिक जैना पर्सले ने कहा कि गुरुवार (3 मई) दोपहर से यहां 119 भूकंप आ चुके हैं. यूएसजीएस का कहना है कि शुक्रवार (4 मई) को आया 6.9 तीव्रता का भूंकप 1975 के बाद से सबसे शक्तिशाली भूकंप था.


भूकंप के तुरंत बाद लगभग 14,000 घरों में बिजली गुल हो गई. सार्वजनिक सुरक्षा प्रशासक तालमेज मागनो ने शुक्रवार (4 मई) दोपहर संवाददाताओं को बताया कि स्थिति बेहतर नहीं हो रही. सीएनएन ने मागनो को हवाले से बताया, "बचाव एवं सुरक्षा कार्य जारी हैं." हवाई काउंटी के मेयर हैरी किम का कहना है कि सरकार सभी नागरिकों की मदद करेगी, इसमें वे लोग भी शामिल हैं, जो कुछ सामान लाने के लिए अपने घर जाना चाहते हैं.


हवाई के शांत पड़े ज्‍वालामुखी में विस्‍फोट    
दुनिया के एक सबसे सक्रिय ज्वालामुखी किलाएवा में हवाई के सबसे बड़े द्वीप के आवासीय क्षेत्र के पास विस्फोट होने से क्षेत्र के करीब 1,700 लोगों को इलाके को छोड़कर जाने को मजबूर होना पड़ा है. अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार (2 मई) को ज्वालामुखी विस्फोट से लीलानी एस्टेट प्रभावित हुआ है और हवाई काउंटी सिविल डिफेंस ने निवासियों व साथ ही साथ लानीपुना गार्डेंस के लोगों से स्थानीय समुदायिक केंद्र में शरण लेने को कहा है. एक निवासी ने कहा कि सड़क पर लावा पूरी तरह से फैला था और उन्हें सल्फर व जले पेड़ों की गंध आ रही थी.


करीब 17,00 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया
हवाई के गवर्नर डेविड इगे ने कहा कि उन्होंने हजारों लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए नेशनल गार्ड के सैन्य संरक्षकों को सक्रिय किया है. उन्होंने ट्वीट किया, "मैं लीलानी एस्टेट व आसपास के इलाकों के निवासियों से निर्देशों का पालन करने का आग्रह करता हूं..कृपया सतर्क रहें और अपने परिवारों को सुरक्षित करने की तैयारी करें." सीएनएन ने गवर्नर की प्रवक्ता सिंडे मैकमिलन के हवाले से कहा, "लीलानी एस्टेट इलाके से करीब 17,00 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने का आदेश है."




[ad_2]

Source link
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads